विद्युत और रासायनिक क्रिया

ELECTRICITY & CHEMICAL REACTION

Electricity And Chemical Reaction

अगर आप पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन के अंतर्गत स्कूलों में पढ़ते हैं और अभी क्लास १० के स्टूडेंट जान लीजिये यह पोस्ट आपके लिए ही है। इस पोस्ट में आप क्लास १० भौतिक विज्ञानं के केमिस्ट्री का एक चैप्टर – विद्युत् और रासायनिक क्रिया को समझेंगे और पढ़ लेंगे जो आपको माध्यमिक परीक्षा काफी मदद करने वाला है।
चलिए एलेट्रोदेस और उसके प्रकार (Electrodes and Its Types), एलेक्ट्रोल्य्सिस(Electrolysis) और एलेक्ट्रोप्लेटिंग(Electroplating) के मुख्य तथ्य को जान लेते हैं।

विद्युतोद या विद्युत द्वार(Electrode)

1. विद्युतोद या विद्युत द्वार किसे कहते हैं? यह कितने प्रकार का होता है? प्रत्येक की परिभाषा लिखो।

विद्युत द्वार(Electrode)- धातु या कार्बन के बने हुए हुए छड़ रूप साधन जिनसे होकर विद्युत धारा विद्युत विच्छेद्य दिया में प्रवेश करती हैं या विद्युत विच्छेद्य से बाहर निकलती हैं, उन्हें विद्युतोद या विद्युत द्वार कहते हैं।

2. Electrode कितने प्रकार का होता है? प्रत्येक की परिभाषा लिखो।

 Electrode दो प्रकार के होते हैं- धनोद और ऋणोद।

धनोद( Anode)- वह electrode(विद्युतोद) जिनसे होकर विद्युत धारा विद्युत विच्छेद्य में प्रवेश करती है तथा जिनका संबंध बैटरी के धन ध्रुव (postive pole) से जुड़ा होता है, एनोड कहलाता है।

ऋणोद(Cathode)- वह electrode(विद्युतोद) जिनसे होकर विद्युत धारा विद्युत विच्छेद्य(electrolyte) से बाहर निकलती है तथा जिनका संबंध बैटरी के ऋण ध्रुव (negative pole) से जुड़ा होता है, कैथोड कहलाता है।

विद्युत विच्छेदन(Electrolysis)

3. विद्युत विच्छेदन किसे कहते हैं?

विद्युत विच्छेदन- जब किसी विद्युत विच्छेद्य से होकर विद्युत धारा प्रवाहित होती है तो वह अपने आयनों में विभक्त हो जाती हैं। इस क्रिया को विद्युत विच्छेदन (Electrolysis) कहते हैं।

जैसे- अम्लीय जल के विद्युत विच्छेदन से जल हाइड्रोजन आयन (H+)तथा हाइड्रोक्सील आयन (OH) में  विभाजित हो जाता है ।

4. विद्युत विच्छेदन (electrolysis)का तीन व्यवहारिक उपयोग बताओ।

विद्युत विच्छेदन (electrolysis)का तीन व्यवहारिक उपयोग-

i)धातुओं के लेपन में

ii)धातुओं के निष्कर्षण में

iii)धातुओं के शुद्धिकरण में

5. वोल्टामीटर किसे कहते हैं?

वोल्टमीटर- जिस पात्र में जिसमें विद्युत विच्छेदन(Electrolysis) की क्रिया संपन्न होती है, उसे वोल्टमीटर (Voltameter) कहते हैं।

6. जल का विद्युत विच्छेदन करते समय अल्प मात्रा में अम्ल या नमक मिला दिया जाता है क्यों?

 जल विद्युत का कुचालक होता है और बहुत कम मात्रा में आयनीकृत होता है। लेकिन जब इसमें अल्प मात्रा में अम्ल या नमक मिला दिया जाता है तब या सुचालक हो जाता है और पूर्ण रूप से आयनीकृत हो जाता है। यही कारण है कि विद्युत विच्छेदन के समय जल में थोड़ा-सा अम्ल या नमक मिला दिया जाता है।

विद्युत विच्छेद्य और विद्युत अविच्छेद्य

Electrolyte And Non-electrolyte

7. विद्युत विच्छेद्य (electrolyte) क्या है?

विद्युत विच्छेद्य- किसी यौगिक का वह जलीय घोल या पिघली हुई अवस्था जिसमें विद्युत धारा प्रवाहित करने के फलस्वरूप रासायनिक परिवर्तन होकर नये पदार्थ का निर्माण होता है, उसे विद्युत विच्छेद्य कहते हैं ।

जैसे- साधारण नमक(NaCl), सल्फ्युरिक एसिड (H2SO4)

8. विद्युत अविच्छेद्य (non-electrolyte) क्या है?

विद्युत अविच्छेद्य- वह सभी यौगिक पदार्थ जिनकी पिघली हुई अवस्था या जलीय घोल से होकर विद्युत धारा प्रवाहित ना हो सके और वे अपने आयनो में विभाजित न हो सके, उन्हें विद्युत अविच्छेद्य कहते हैं।

 जैसे- चीनी का जलीय घोल, यूरिया, पेट्रोल आदि।

9. शुद्ध जल दुर्बल विद्युत विच्छेद्य  है क्यों?

 शुद्ध जल एक दुर्बल विद्युत विच्छेद्य (weak electrolyte) है क्योंकि यह विद्युत का कुचालक है तथा अति अल्प मात्रा में आयन बदलता है।

10. जल की विद्युत वितरण के लिए प्लेटिनम इलेक्ट्रोड्स की जगह कॉपर इलेक्ट्रोड्स का प्रयोग नहीं किया जाता है क्यों?

 जल का विद्युत विश्लेषण करने के लिए यदि एनोड प्लेटिनम के बदले कॉपर का बनाया जाए तो आयनीकरण के फलस्वरुप उत्पन्न ऑक्सीजन, कॉपर से प्रतिक्रिया करके कॉपर को आक्सीकृत कर देगी। फलस्वरुप थोड़ी देर पश्चात प्रतिक्रिया बंद हो जाती है। इसीलिए जल के विद्युत विश्लेषण के लिए वोल्टामीटर में इलेक्ट्रोड विशेषकर एनोड  का प्लेटिनम का होना आवश्यक है। कैथोड भले ही कॉपर या ग्रेफाइट का हो सकता है, एनोड नहीं।

Here the following POSTS you are going to read our all Study Materials on different topics based Madhyamik Pariksha 2021:-

  1. Hindi Madhyamik 2021
  2. Madhyamik Theorems 2021
  3. Chemical Bonding |Physical Science| WBBSE CLASS 10
  4. Current Elrctricity |PHYSICAL SCIENCE WBBSE CLASS 10
  5. PERIODIC TABLE | Madhyamik Physical Science|WBBSE CLASS 10    

विद्युत लेपन(Electroplating)

11. विद्युत लेपन किसे कहते हैं?

-विद्युत विच्छेदन विधि द्वारा किसी धातु(सस्ता) पर किसी अन्य धातु (महंगे और टिकाऊ )की परत चढ़ाने की क्रिया को विद्युत लेपन(Electroplating) कहते हैं।

12. विद्युत लेपन का क्या उद्देश्य है?

विद्युत लेपन का क्या उद्देश्य-

  1. i) सजावट के लिए
  2. ii) वस्तु के स्थावित्व और टिकाऊपन में वृद्धि के लिए
  3. ii) जंग से बचाने के लिए

13. लोहे की बनी वस्तुओं पर जिंक कालेपन करने के पीछे क्या उद्देश्य होता है ?

लोहे की बनी वस्तुओं को जंग(Rust) से बचाने के लिए लोहे पर जिंक(जस्ता) का लेपन किया जाता है।

14. विद्युत लेपन विधि में एक धातु पर अन्य धातु की पर चढ़ाने के लिए कैथोड, एनोड और विद्युत विच्छेद्य के रूप में किन पदार्थों का उपयोग किया जाता है?

 जिस वस्तु पर विद्युत लेपन करना होता है उसको अच्छी तरह साफ करके उसको कैथोड बनाते हैं और जिस धातु का लेपन करना होता है उसका एनोड बनाया जाता है। एनोड जिस धातु का बना होता है उसी धातु पर उपयुक्त लवण का घोल विद्युत विच्छेद्य (इलेक्ट्रोलाइट) के रूप में प्रयुक्त होता है।

15. विद्युत लेपन पद्धति में लोहे पर तांबे के लिए एनोड, कैथोड और विद्युत अपघटन (विच्छेद्य) के रूप में क्या प्रयुक्त होता है?

 लोहे की बनी किसी वस्तु पर तांबे का विद्युत लेपन करने के लिए शुद्ध तांबे की प्लेट को एनोड के रूप में तथा लोहे की बनी वस्तु जिस पर लेप चढ़ाने है उसे कैथोड के रूप में लेते हैं और विद्युत विच्छेद्य के रूप में कॉपर सल्फेट का जलीय घोल का प्रयोग किया जाता है।

16. अशुद्ध कापर छड़ से शुद्ध कॉपर की प्रस्तुति के लिए कैथोड, एनोड और विद्युत विच्छेद के रूप में क्या-क्या प्रयुक्त होता है?

अशुद्ध कॉपर छड़ से शुद्ध का पर प्राप्त करने के लिए:- 

कैथोड के रूप में- शुद्ध तांबे की प्लेट

एनोड के रूप में –शुद्ध तांबे की छड़ को

विद्युत विच्छेद्य के रूप में-  कॉपर सल्फेट (CuSO4)के जलीय घोल

17. लोहे के चम्मच पर निकल के लेपन हेतु विद्युत लेपन विधि में कैथोड, एनोड और इलेक्ट्रोलाइट के रूप में किसका उपयोग किया जाता है?

लोहे के चम्मच पर निकल के लेपन हेतु विद्युत लेपन विधि में कैथोड, एनोड और इलेक्ट्रोलाइट के रूप में निम्न का उपयोग किया जाता है-

कैथोड- लोहे के चम्मच

एनोड- निकल की छड़

इलेक्ट्रोलाइट(विद्युत विच्छेद्य)- निकेल सल्फेट (NiSO4) की घोल

18. चांदी पर सोने के लेपन के लिए विद्युत लेपन विधि में कैथोड, एनोड और विद्युत विच्छेद्य के रूप में किसका उपयोग किया जाता है?

-चांदी पर सोना के लेपन करने के लिए विद्युत लेपन विधि में निम्न का प्रयोग कैथोड एनोड और विद्युत विच्छेद के रूप में किया जाता है-

कैथोड- चाँदी 

एनोड- शुद्ध सोना की छड़

इलेक्ट्रोलाइट(विद्युत विच्छेद्य)- पोटेशियम आइरोसायनायड [KAu(CN)2 ] की घोल

विद्युत धातुकर्म(Electrometallurgy)

19. विद्युत धातुकर्म (Electrometallurgy) क्या है?

विद्युत धातुकर्म – विद्युत अपघटन प्रक्रिया(Electrolysis) द्वारा अयस्कों (Ores) से धातु के निष्कर्षण को विद्युत धातुकर्म कहते हैं।

जैसे-एलुमिना (Al2O3) से एलुमिनियम (Al) का निष्कर्षण

20. तांबे के अयस्क किस से तांबा का शुद्धिकरण किस प्रकार किया जाता है ?

तांबा का शुद्धीकरण- अशुद्ध तांबा से शुद्ध तांबा प्राप्त करने के लिए तांबा का शुद्धीकरण वोल्टमीटर में किया जाता है जिसमें एनोड अशुद्ध तांबा की छड़, कैथोड शुद्ध तांबा की प्लेट और विद्युत विच्छेद्य के रूप में कॉपर सल्फेट (CuSO4) का घोल रहता है।

 विद्युत धारा प्रवाहित करने पर अशुद्ध कॉपर इलेक्ट्रॉन का त्याग करके कॉपर आयन बनाता है जो कैथोड की ओर बढ़ता है और इलेक्ट्रॉन ग्रहण करके उदासीन परमाणु के रूप में शुद्ध तांबा कैथोड पर जमा होता रहता है और अशुद्धियां एनोड प्लेट के नीचे अवक्षेप के रूप में जमा होती रहती हैं।

Chemical Reaction(रासायनिक क्रिया):  

Al2O3 → 2Al+3  + 3 O-2

2Al+3 + 6 e → 2Al

3O-2 + 2 e → 3 [ O ]

3[ O ] + 3[ O ] → 3O2

       Related Topics:-

    1. Mathematics Theorems |MADHYAMIK THEOREMS| CLASS 10 
    2. Current Elrctricity |PHYSICAL SCIENCE WBBSE CLASS 10
    3. Chemical Bonding |Physical Science| WBBSE CLASS 10
    4. Electricity And Chemical Reaction| Physical Science | WBBSE CLASS10
    5. Behaviour Of Gases | Madhyamik Physical Science|WBBSE CLASS 10    
    6. PERIODIC TABLE | Madhyamik Physical Science|WBBSE CLASS 10
    7. CONCERNS ABOUT ENVIRONMENT | MADHYAMIK PARIKSHA  | PHYSICAL SCIENCE 
5/5
error: Content is protected !!